RNI NO : RAJBIL/2013/50688
For News (24x7) : 9829070307
Visitors Count - 67015568
Breaking News
Ajmer Breaking News: शराब ठेकेदारों ने आबकारी विभाग के खिलाफ किया प्रदर्शन |  Ajmer Breaking News: सोफिया कॉलेज में अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन |  Ajmer Breaking News: जिला स्तरीय कृषि समिति की बैठक मंगलवार को |  Ajmer Breaking News: प्रधानमंत्री की चादर चढ़ेगी बुधवार को |  Ajmer Breaking News: सम्पर्क पोर्टल के प्रकरणों का करें निस्तारण - जिला कलक्टर |  Ajmer Breaking News: अलवर गेट थाना पुलिस ने क्रिकेट पर सट्टा खिलाने वाले बुकी  को किया गिरफ्तार |  Ajmer Breaking News: चेटीचंड को लेकर आयोजित बैठक |  Ajmer Breaking News: महासंघ कर्मचारी संघ की आयोजित हुई बैठक |  Ajmer Breaking News: मुस्लिम एकता मंच के कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे इंद्रेश कुमार |  Ajmer Breaking News: ऑनलाइन मोबाइल का रिचार्ज करवाना पड़ा महंगा | 

चिदंबरम ने अंतरिम जमानत के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई, चीफ जस्टिस के पास भेजा गया मामला

Post Views 13

August 21, 2019

नई दिल्ली. पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने आईएनएक्स मीडिया घोटाले में अंतरिम जमानत के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। दिल्ली हाईकोर्ट ने मंगलवार को उनकी अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी। इसी के खिलाफ उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में स्पेशल लीव पिटिशन (एसएलवी) दायर की। हालांकि, जस्टिस एसवी रमना की बेंच ने इस मामले में तत्काल सुनवाई से इनकार करते हुए इसे चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के पास भेज दिया। अब चीफ जस्टिस तय करेंगे कि मामले की तत्काल सुनवाई हो या नहीं। 

सीबीआई ने नोटिस चस्पा कर दो घंटे में पेश होने के लिए कहा था

हाईकोर्ट में चिदंबरम की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज होने के बाद सीबीआई ने रात 11.30 बजे चिदबंरम के घर पर नोटिस चस्पा कर दो घंटे में पेश होने के लिए कहा। इसके बावजूद चिदंबरम पेश नहीं हुए। चिदंबरम के वकील अर्शदीप सिंह खुराना ने सीबीआई को पत्र लिखकर पूछा है कि किस कानून के तहत यह नोटिस दिया गया।

अर्शदीप ने सीबीआई से पूछा, 'आपने चिदंबरम के घर के बाहर जो नोटिस चस्‍पा किया है, उसमे यह नहीं बताया कि किस कानून के तहत चिदंबरम को दो घंटे के भीतर पेश होने के लिए कहा गया। हम अपने कानूनी अधिकारों को तलाश रहे हैं। मेरे मुवक्किल ने 20 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट का रुख किया और इस मामले में अंतरिम राहत की अपील की है। हमें सुप्रीम कोर्ट में तत्‍काल विशेष अवकाश याचिका दायर करने की अनुमति मिली है। आज कोर्ट इस पर सुनवाई करेगा। लिहाजा मेरी अपील है कि तब तक सीबीआई मेरे मुवक्किल के खिलाफ किसी भी तरह की कार्रवाई नहीं करे और इंतजार करे।'

हाईकोर्ट ने चिदंबरम को प्रमुख साजिशकर्ता माना

चिदंबरम के वकील ने मंगलवार को अग्रिम जमानत अर्जी खारिज करने के आदेश पर तीन दिन का स्टे देने की मांग भी की थी, लेकिन अदालत ने इनकार कर दिया। हाईकोर्ट ने कहा कि तथ्यों से पता चलता है कि आईएनएक्स मीडिया घोटाले में चिदंबरम प्रमुख साजिशकर्ता थे। हाईकोर्ट का प्रथम दृष्टया मानना है कि प्रभावी जांच के लिए चिदंबरम को हिरासत में लेकर पूछताछ जरूरी है। अदालत ने इस मामले को मनी लॉन्ड्रिंग का क्लासिक केस बताया। जस्टिस सुनील गौर ने कहा कि ऐसे मामलों में जमानत देने से समाज में गलत संदेश जाएगा।

Latest News

February 25, 2020

कालीचरण बोले- अर्चना ने पैसे मांगे, नहीं दिए तो बिल्डिंग सील की; अर्चना बोलीं- क्या उन्हें पैसे दिए, जो अवैध निर्माण बचा रहे हैं

Read More

February 25, 2020

मौजूदा सत्र में संशोधन बिल लाएगी सरकार; 25 हजार फीस में कितनी भी रकम की मानहानि का दावा कर सकते हैं

Read More

February 25, 2020

दिल्ली हिंसा में मारे गए कॉन्स्टेबल रतनलाल बुखार होने के बाद भी ड्यूटी कर रहे थे, पत्नी को टीवी से मिली मौत की खबर

Read More

February 25, 2020

ट्रम्प के भारत आने से थोड़ी देर पहले पाकिस्तान ने जम्मू में एयरस्पेस का उल्लंघन किया

Read More

February 25, 2020

ताज का दीदार करने पहुंचे ट्रम्प, लेकिन अपने ही ताजमहल को आर्थिक तंगी के चलते दो साल पहले बेच चुके हैं

Read More

February 25, 2020

मोदी के साथ द्विपक्षीय बातचीत के लिए ट्रम्प हैदराबाद हाउस पहुंचे, 21 हजार करोड़ रु. के करार संभव

Read More

February 24, 2020

क्या देश को इसकी जरुरत है ???

Read More

February 24, 2020

शराब ठेकेदारों ने आबकारी विभाग के खिलाफ किया प्रदर्शन

Read More

February 24, 2020

सोफिया कॉलेज में अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन

Read More

February 24, 2020

जिला स्तरीय कृषि समिति की बैठक मंगलवार को

Read More