RNI NO : RAJBIL/2013/50688
For News (24x7) : 9829070307
booked.net - hotel reservations online
+43
°
C
+43°
+38°
Ajmer
Saturday, 08
See 7-Day Forecast
Visitors Count - 63548585
Breaking News
Ajmer Breaking News: अग्रवाल महिला समिति द्वारा दिवाली स्नेह मिलन समारोह का आयोजन |  Ajmer Breaking News: फॉरेस्ट्रा समारोह स्थल में चल रहे देहव्यापार पर पुलिस ने दी दबिश |  Ajmer Breaking News: कोड स्कैन करने से खाते से उड़े ₹40000 |  Ajmer Breaking News: राजस्थान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 18 नवंबर को रहेंगे अजमेर दौरे पर |  Ajmer Breaking News: जगदंबा टावर में चोरी करने वाले चारों आरोपी गिरफ्तार |  Ajmer Breaking News: पुष्कर में निकाय चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न |  Ajmer Breaking News: आरा तारी की फैक्टरी पर पुलिस ने मारा छापा |  Ajmer Breaking News: आशा सहयोगिनी महिला आरोग्य समिति सदस्यों की क्षमतावर्द्धन कार्यशाला का आयोजन |  Ajmer Breaking News: बहादुर शाह जफर की दरगाह पर पेश होगी अजमेर से भेजी गई चादर |  Ajmer Breaking News: कार का कांच तोड़कर व्यापारी का बैग लेकर भागने वाला आरोपी गिरफ्तार | 

चौथे नंबर का बल्लेबाज एक भी अर्धशतक नहीं लगा सका, वर्ल्ड कप से रोहित में निरंतरता आई

Post Views 6

July 11, 2019

खेल डेस्क. न्यूजीलैंड ने वर्ल्ड कप के पहले सेमीफाइनल में भारत को हरा दिया। इस हार के बाद टीम इंडिया का 8 साल बाद चैम्पियन बनने का सपना टूट गया। भारत को इस टूर्नामेंट में दूसरी बार हार का सामना करना पड़ा। टीम ने सेमीफाइनल को छोड़कर पिछले आठों मैचों में बेहतरीन प्रदर्शन किया था। टॉप-10 बल्लेबाजों में भारत के रोहित शर्मा और विराट कोहली शामिल हैं। वहीं,जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी टॉप-10 गेंदबाजों में शामिल हैं।

हम आपको यहां बता रहे हैं कि टीम इंडिया इस वर्ल्ड कप में कहां सफल रही और कहां नाकाम हो गई। टीम को इस टूर्नामेंट से क्या मिला और किस क्षेत्र में सुधार की जरूरत है।

भारत कहां सफल हुआ
1. बेस्ट बॉलिंग अटैक : पांच भारतीय गेंदबाजों ने इस वर्ल्ड कप में 10+ विकेट लिए। तीन गेंदबाजों की इकोनॉमी रेट टॉप-10 में रहा। बुमराह ने 18 और शमी ने 14 विकेट अपने नाम किए। युजवेंद्र चहल ने 12, भुवनेश्वर कुमार ने 10 और हार्दिक पंड्या ने 10 विकेट लिए। पेस अटैक को बुमराह, शमी और भुवनेश्वर ने संभाला। उनकी मदद हार्दिक पंड्या ने की। वहीं, लेग स्पिनर चहल ने भी अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया। आखिरी दो मैचों में जडेजा ने 3.70 की इकोनॉमी रेट से रन देकर दो विकेट लिए।

2. रवींद्र जडेजा ऑलराउंडर : जडेजा ने 2 मैच में 2 विकेट लेने के साथ-साथ 3 कैच भी लिए। उन्होंने सेमीफाइनल में 77 रन की पारी खेली। संजय मांजरेकर की आलोचना के बाद उनको ट्विटर पर जवाब भी दिया। उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ जिम्मेदारी के साथ अर्धशतक लगाया। टूर्नामेंट से पहले उनकी इमेज ऐसे स्पिनर की थी जो कभी-कभी बल्लेबाजी भी कर सकता है, लेकिन 77 रन की पारी के बाद उन्होंने खुद को ऑलआउडर के तौर पर साबित किया है।

3. तीसरे ओपनर लोकेश राहुल : लोकेश राहुल ने इस वर्ल्ड कप में ओपनर के तौर पर 7 मैच खेले। इस दौरान 324 रन बनाए। उनका औसत 46.28 का रहा। एक शतक और दो अर्धशतक लगाए। वहीं, मध्यक्रम में दो बार बल्लेबाजी की। तब राहुल ने 2 मैच में सिर्फ 37 रन बनाए। उन्होंने शिखर धवन के बाद टीम को संभाला और खुद को ओपनर के तौर पर साबित भी किया। टूर्नामेंट के दौरान कई इंटरव्यू में उन्होंने कहा भी कि यह उनका सबसे पसंदीदा बल्लेबाजी क्रम है।

Latest News

November 16, 2019

अग्रवाल महिला समिति द्वारा दिवाली स्नेह मिलन समारोह का आयोजन

Read More

November 16, 2019

फॉरेस्ट्रा समारोह स्थल में चल रहे देहव्यापार पर पुलिस ने दी दबिश

Read More

November 16, 2019

कोड स्कैन करने से खाते से उड़े ₹40000

Read More

November 16, 2019

राजस्थान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 18 नवंबर को रहेंगे अजमेर दौरे पर

Read More

November 16, 2019

जगदंबा टावर में चोरी करने वाले चारों आरोपी गिरफ्तार

Read More

November 16, 2019

पुष्कर में निकाय चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न

Read More

November 16, 2019

विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा- पाकिस्तान ने आतंकवाद को उद्योग बनाया, उसे जवाब देना जरूरी

Read More

November 16, 2019

पवार ने कहा- सरकार बनाने की प्रक्रिया शुरू, 5 साल पूरे करेंगे

Read More

November 16, 2019

राफेल पर राहुल ने देश को गुमराह किया, वो माफी मांगें: सरमा; मुंबई में भाजपा का प्रदर्शन

Read More

November 16, 2019

शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस नेता आज राज्यपाल से मिलेंगे, सामना में लेख- नए समीकरण से भाजपा के पेट में दर्द क्यों

Read More