RNI NO : RAJBIL/2013/50688
For News (24x7) : 9829070307
booked.net - hotel reservations online
+43
°
C
+43°
+38°
Ajmer
Saturday, 08
See 7-Day Forecast
Visitors Count - 49812436

अपने सांसदों से नाराज हिमाचल, एयर स्ट्राइक और मोदी से खुश

Post Views 13

May 12, 2019

अनिरुद्ध शर्मा, धर्मशाला/शिमला (हिमाचल). एयर स्ट्राइक के बाद से कांगड़ा और हमीरपुर में प्रधानमंत्री मोदी का नाम फिर जुबान पर है। यहां मतदाताओं में फौजियों की तादाद अच्छी खासी है।  कारगिल युद्ध में हिस्सा ले चुके ब्रिगेडियर खुुशहाल ठाकुर बताते हैं कि करीब 12% आबादी फौज से जुड़ी है। हर दूसरे-तीसरे घर का बेटा फौज में है। यहां मतदाता किधर झुक जाएं, पता नहीं चलता। यही वजह है कि दस विधानसभा चुनाव में पांच बार कांग्रेस, पांच बार भाजपा जीत चुकी है। 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को जिताया जरूर, लेकिन पार्टी के सीएम चेहरे प्रेम कुमार धूमल को ही हरा दिया।

हमीरपुर के सेब कारोबारी मनजीत कहते हैं कि मोदी ने खुद वायदा किया था कि सेब की ढुलाई, स्टोरेज और खरीद के लिए सुविधाएं विकसित कराएंगे लेकिन कुछ नहीं हुआ। धर्मशाला के ग्रेजुएट कैब ड्राइवर सोनू कपूर कहते हैं कि शांता कुमार ने चंबा में सीमेंट प्लांट का वायदा किया था, इससे हिमाचल के युवाओं को रोजगार मिलता लेकिन यह वायदा भी पूरा नहीं हो पाया। इसलिए हिमाचल में सांसदों के कामकाज पर तो वोट मिलने से रहा। मोदी के नाम पर भले ही वोट मिले।’ धर्मशाला में स्कूल टीचर राजेंद्र कटोच कहते हैं कि ‘इस बार यहां पिछली बार की तरह मोदी लहर नहीं है। लेकिन वोट मोदी के चेहरे पर ही पड़ेगा’।

धर्मशाला के खनियारा गांव में मन बहादुर गुरुंग कहते हैं, ‘मोदी आएगा जी फिर से’। हमने कारण पूछा तो गुरुंग बोले ‘बहुत बोल्ड डिसिजन लेता है।’ बात बढ़ाते हुए हमनेे पूछा कि नोटबंदी का फैसला कैसा था? इस पर कहते हैं, ‘सही था, हिमाचल में ही कहीं भी पैसा निकालने के लिए कोई लाइन नहीं लगी।’ कांगड़ा में भाजपा से मौजूदा सांसद शांता कुमार (84) चुनाव नहीं लड़ रहे हैं। पार्टी ने पहली बार गद्दी (जनजातीय) समुदाय से जुड़े किशन कपूूर को टिकट दिया है। पांच बार के विधायक किशन कपूर प्रदेश सरकार में मंत्री हैं। वे धूमल सरकार में भी मंत्री थे।

प्रदेश में गद्दी समुदाय की आबादी 8% है। कांग्रेस से दो बार के विधायक पवन काजल मैदान में हैं। पेशे से ठेकेदार काजल ओबीसी हैं। धर्मशाला के पत्रकार प्रेम सूद कहते हैं कि हालांकि शांता का सीट पर अच्छा प्रभाव है फिर भी इस बार चंबा में सीमेंट फैक्ट्री का मुद्दा उनके लिए उल्टा पड़ सकता था क्योंकि पिछले चुनाव में उन्होंने जनता से यह वादा किया था। लेकिन किशन कपूर को टिकट देकर भाजपा ने उस मुद्दे को पीछे धकेल दिया है। दूसरी महत्वपूर्ण बात यह है कि हिमाचल में गद्दी समुदाय को जनजातीय दर्जा दिलाने का श्रेय भी शांता को जाता है। उधर, कांग्रेस ने गद्दी समुदाय के सामने ओबीसी उम्मीदवार उतारकर मुकाबले को दिलचस्प बना दिया है। कांगड़ा में ओबीसी की आबादी 55 फीसदी है। 

हमीरपुर में प्रेम कुमार धूमल के बेटे और तीन बार से सांसद अनुराग ठाकुर भाजपा के प्रत्याशी हैं। भाजपा के गढ़ वाली इस सीट की धूमल और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती के विधानसभा चुनाव में हार जाने के बाद से परिस्थितियां बदली हैं। कांग्रेस ने नयनादेवी के पांच बार के विधायक रामलाल ठाकुर को टिकट दिया है। हालांकि ठाकुर एक बार धूमल और दो बार सुरेश चंदेल से चुनाव हार चुके हैं। यहां मुकाबला दो ठाकुरों के बीच है जिसमें कांग्रेस की गुटबाजी का भाजपा को लाभ मिलता दिख रहा है।

Latest News

July 21, 2019

आदर्श नगर थाना क्षेत्र में एक युवक का अपहरण

Read More

July 21, 2019

रेलवे हॉस्पिटल के सामने पेट्रोल पंप में घुसी कार

Read More

July 21, 2019

सीआरपीएफ के जवानों की साईकिल रैली

Read More

July 21, 2019

बातों में फंसा का ठगी करने वाला गिरोह गिरफ्तार

Read More

July 21, 2019

इनरव्हील क्लब की नए कार्य करने की घोषणा

Read More

July 21, 2019

कला अंकुर खोज 2019 का आगाज

Read More

July 21, 2019

तारागढ़ रोड पर चल रहे सट्टे पर रामगंज थाना पुलिस ने दी दबिश

Read More

July 21, 2019

परशुराम सर्किल पर ब्राह्मण समाज ने दी शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि

Read More

July 21, 2019

अजब ब्लॉग की गज़ब कहानी

Read More

July 21, 2019

जिसकी पूंछ उठाओ वही मादा - सुरेन्द्र चतुर्वेदी

Read More