RNI NO : RAJBIL/2013/50688
For News (24x7) : 9829070307

horizon hind news ajmer-youtube

10th Jan 19

ई - पेपर

Breaking News
गणतंत्र दिवस की तैयारियों का जायज़ा लेने पहुचे कलेक्टर | हर चीज की रहेगी व्यवस्ता | निरिक्षण पर एस पी भी रहे साथ | |  स्कूल व्याख्याता भर्ती को लेकर अभियार्तियो ने किया प्रदर्शन |  बंसल और देसाई को कार्यकर्ताओ ने घेर कर विरोधियो को पार्टी से निकालने की करी मांग |  क्लब फैक्ट्री से रिफंड मंगवाने के चक्कर में एक युवक ने खोये 23,500 रूपए | |  भारत में नशे में मामले में अजमेर आया दुसरे नंबर पर |  राष्ट्रीय किन्नर सम्मेलन में किन्नर समाज ने निकाली छत्र यात्रा |  लायंस क्लब अजमेर आस्था ने 80 मासूम बच्चो को दी सेवा |  वृद्ध महिला को मिटटी की पुड़िया थमा कर ले लिया तीन तोला सोना |  अब तो राष्ट्रीय कांग्रेस सचिव विवेक बंसल ने भी मान लिया की अजमेर कांग्रेस में हो रही है गुटबाजी |  कुंदन नगर का रहने वाला एक युवक हुआ ऑनलाइन ठगी का शिकार | 

कमलनाथ या सिंधिया... आज होगा ऐलान

Post Views 2

December 13, 2018

भोपाल . विधानसभा चुनाव परिणामों पर बुधवार अलसुबह तक रही संशय की स्थिति सुबह करीब 11:30 बजे खत्म हो गई। शिवराज सिंह चौहान ने राज्यपाल से मिलकर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। इसके बाद कांग्रेस ने नई सरकार के गठन और विधायक दल का नेता चुनने की प्रक्रिया शुरू की।

सबसे पहले कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ, सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और पार्टी महासचिव दिग्विजय सिंह ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मिलकर 121 विधायकों का समर्थन पत्र सौंपते हुए सरकार बनाने का दावा पेश किया। इस 121 के आंकड़े में 114 कांग्रेस, 1 सपा, 2 बसपा और 4 निर्दलीय विधायक हैं। हालांकि शाम को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में हुई नव निर्वाचित विधायकों की पहली बैठक में मुख्यमंत्री का नाम तय नहीं हो पाया।

केंद्रीय पर्यवेक्षक एके एंटनी और भंवर जितेंद्र सिंह ने नाथ, सिंधिया और दिग्विजय समर्थक विधायकों से अलग-अलग चर्चा की। पार्टी सूत्रों के मुताबिक सभी विधायकों ने मुख्यमंत्री पद के लिए कमलनाथ और सिंधिया को अपनी पसंद बताया। सभी की राय जानकर एंटनी दिल्ली रवाना हो गए। अब वे अपनी रिपोर्ट पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को सौंपेंगे। राहुल ही मुख्यमंत्री पर अंतिम फैसला लेंगे। माना जा रहा है कि गुरुवार को वे विधायक दल के नेता का नाम घोषित कर देंगे।

5 घंटे की बैठक....अकील ने रखा एक लाइन प्रस्ताव, सभी ने दी सहमति

 इधर, बुधवार शाम 4 बजे से पीसीसी में कांग्रेस के नए विधायकों की बैठक शुरू हुई, जो रात 9 बजे तक चलती रही। विधायक दल का नेता चुनने के लिए वरिष्ठ विधायक आरिफ अकील ने एक लाइन का प्रस्ताव बैठक में रखा, जिसका सज्जन सिंह वर्मा, डाॅ. गोविंद सिंह, झूमा सोलंकी और निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह ने समर्थन किया। बाद में सभी विधायकों ने इस पर हस्ताक्षर किए और इसे एंटनी को सौंप दिया। 

14 को शपथ संभव : बुधवार शाम को दिल्ली लौटे एके एंटनी गुरुवार को फिर भोपाल आएंगे। वे यहां पीसीसी में शाम 4 बजे होने वाली विधायकों की बैठक में शामिल होंगे। यहीं विधायक दल के नेता का एेलान भी कर दिया जाएगा। पार्टी सूत्रों के मुताबिक 14 दिसंबर को नए मुख्यमंत्री शपथ ले सकते हैं।

मुलाकातों का दौर...लंच पॉलिटिक्स : सिंधिया से 70 विधायक होटल में मिलने पहुंचे नए विधायकों ने कमलनाथ और सिंधिया से मुलाकात की। सिंधिया से 70 विधायक एक निजी होटल में भी मिले। बाद में ग्वालियर-चंबल के विधायकों के साथ सिंधिया ने लंच भी किया। 114 में से आधे से ज्यादा विधायकों की सिंधिया से इस मुलाकात को मुख्यमंत्री पद की पहली पसंद के रूप में भी देखा जा रहा है। सुबह बुरहानपुर विधानसभा से चुने गए निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह उर्फ शेरा और सुसनेर से विधायक विक्रम सिंह राणा भी सुबह सिंधिया से मिलने पहुंचे थे। 

ये हो सकते हैं मंत्री... 36 नामों पर मंथन : विधानसभा अध्यक्ष - डाॅ. गोविंद सिंह, केपी सिंह

 मंत्री- एनपी प्रजापति, ब्रजेंद्र सिंह राठौर, आरिफ अकील, सज्जन सिंह वर्मा, हुकुम सिंह कराड़ा, बाला बच्चन, विजय लक्ष्मी साधौ, बिसाहूलाल सिंह, सुखदेव पांसे, दीपक सक्सेना, राजवर्द्धन सिंह दत्तीगांव, डाॅ. प्रभुराम चौधरी, सचिन यादव, जीतू पटवारी, पीसी शर्मा, एंदल सिंह कंसाना, लक्ष्मण सिंह/ जयवर्द्धन सिंह, लाखन यादव, हिना कावरे, तुलसी सिलावट,गोविंद राजपूत, लखन घनघोरिया, कमलेश्वर पटेल, तरुण भानौत, ओमकार सिंह मरकाम, रामलाल मालवीय, प्रद्युम्न सिंह तोमर, इमरती देवी, दिलीेप गुर्जर, हर्ष यादव, उमंग सिंघार, सुरेंद्र सिंह उर्फ शेरा और प्रदीप जायसवाल (दोनों निर्दलीय)।

भाजपा आराम नहीं करेगी : शिवराज

इस्तीफा सौंपने के बाद शिवराज ने कहा कि भाजपा ऐसी नहीं है कि हार के बाद एक माह तक आराम करे। हम पहले दिन से ही जिम्मेदार विपक्ष की तरह जमीन पर उतरेंगे। सरकारी आयोजनों में भी प्रमुखता से भागीदारी करेंगे। हम उस प्रवृत्ति के नहीं हैं कि किनारा करें। रचनात्मक भूमिका में अागे रहेंगे। चौहान ने कहा कि भाजपा सरकार ने जनता के दुख-दर्द देखकर ही योजनाएं बनाई हैं। उम्मीद है कि उसे निरंतरता मिलेगी

Latest News

January 22, 2019

गणतंत्र दिवस की तैयारियों का जायज़ा लेने पहुचे कलेक्टर | हर चीज की रहेगी व्यवस्ता | निरिक्षण पर एस पी भी रहे साथ |

Read More

January 22, 2019

स्कूल व्याख्याता भर्ती को लेकर अभियार्तियो ने किया प्रदर्शन

Read More

January 22, 2019

बंसल और देसाई को कार्यकर्ताओ ने घेर कर विरोधियो को पार्टी से निकालने की करी मांग

Read More

January 22, 2019

क्लब फैक्ट्री से रिफंड मंगवाने के चक्कर में एक युवक ने खोये 23,500 रूपए |

Read More

January 22, 2019

भारत में नशे में मामले में अजमेर आया दुसरे नंबर पर

Read More

January 22, 2019

राष्ट्रीय किन्नर सम्मेलन में किन्नर समाज ने निकाली छत्र यात्रा

Read More

January 22, 2019

लायंस क्लब अजमेर आस्था ने 80 मासूम बच्चो को दी सेवा

Read More

January 22, 2019

वृद्ध महिला को मिटटी की पुड़िया थमा कर ले लिया तीन तोला सोना

Read More

January 22, 2019

अब तो राष्ट्रीय कांग्रेस सचिव विवेक बंसल ने भी मान लिया की अजमेर कांग्रेस में हो रही है गुटबाजी

Read More

January 22, 2019

कुंदन नगर का रहने वाला एक युवक हुआ ऑनलाइन ठगी का शिकार

Read More