www.horizonhind.com

9829070307

" />
RNI NO : RAJBIL/2013/50688
For News (24x7) : 9829070307

Loksabha Election 2019

10th Feb 19

ई - पेपर

Breaking News
पूरी निष्ठा व ईमानदारी से जनता की सेवा करूंगा-झुनझुनवाला |  भाजपा बांधे ले अपने बोरी-बिस्तर-पायलट |  सरकारी नौकरियों में महिलाओं को मिलेगा 33 फीसदी आरक्षण |  फीस को लेकर भगवंत यूनीवरसिटी के विधियार्तियो ने कॉलेज के बाहर किया प्रदर्शन |  पूर्व मंत्री बिना कॉक पहुंचीं अंदरकोट में जनसंपर्क करने |  विवाह पर उपहार सामग्री श्री बालिका समृद्धि योजना के तहत् समाज सेवा टीम द्वारा द्वारा भेंट की |  मेरा अहोभाग्य जो मेवाड को कर्मभूमि बनाने का सुअवसर मिला:- दीयाकुमारी |  बस स्टेण्ड परिसर में पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश |  अवैध भंडारण मानते हुए 15 घरेलु सिलेंडर जब्त किए |  ट्राई साइकिल रैली में दिव्यांगों ने दिया मतदान का संदेश | 

चंद्र ग्रहण किस राजनेता को शुभ किसको अशुभ

Post Views 4

February 2, 2018

 *चंद्र ग्रहण किस राजनेता को शुभ किसको अशुभ* 

 खग्रास चंद्रग्रहण के रोज अलग अलग पंडितों ने अलग अलग राशियों पर ग्रहण के प्रभाव की घोषणाएं की है। जिसके फलादेश अनुसार रामस्वरूप लांबा और रघु शर्मा दोनों की ही राशि एक है।

इसका मतलब स्वाभाविक तौर से दोनों पर चंद्र ग्रहण का एक ही तरह का प्रभाव पड़ेगा । इसे शायद यूँ माना जाए तो बेहतर होगा, कि चुनाव कोई जीते या कोई भी हारे दोनों को ही जीवन के  पर्सनल ग्राफ में इससे कोई नुकसान नहीं होगा। रामस्वरूप लाम्बा अगर चुनाव जीत जाते हैं तो डेढ़ साल में फिर चुनाव में आना होगा और कोई खास बड़ी उपलब्धि नहीं होगी। यानी कि जीत से भी कोई फर्क नहीं पड़ना और  हार जाते हैं तो वह कौन से खुद कोई पहले से ही राजनेता थे जो मात्र उनके पिता की गद्दी पे बिठाकर उनसे ये चुनाव लड़वाया गया है सो कोई ऐसी प्रतिष्ठा उनकी भी दांव पर नहीं है। राजनीति में अनुभव न होने की वजह से उनका दोष भी नहीं माना जायेगा।उसी तरह से रघु शर्मा अगर चुनाव जीतते हैं तो केवल डेढ़ साल ही MP रह पाते हैं और आगे का अंजाम खुदा जाने, और अगर हार जाते हैं तो जो राजनैतिक लाभ रघु शर्मा टिकट प्राप्त करते ही पा चुके हैं वह लाभ किसी से भी छुपा नहीं है। और कहूंगा तो आप लोग हंसेंगे मुझ पर लेकिन मैं आपको पहले भी कह चुका हूं कि मुझे इस चीज़ की कोई परवाह नहीं कि पाठक मेरे बारे में क्या सोचते हैं । मैं तो अपनी बात दिल से कहता हूं और दिल से लिखता हूं । मुद्दे की बात यह है कि चंद्रग्रहण का दुष्प्रभाव अंततः वासुदेव देवनानी और तुलसी सोनी की कुंडली में जरूर दिखाई देने लगा है। जिन पर कांग्रेसियों से झगड़े को लेकर बात बढ़ गयी दिखती है । वह इस बात ने इतना तूल पकड़ा कि अंततः कांग्रेस कार्यकर्ता मंजू सोनी ने कांग्रेस नेताओं द्वारा प्रोत्साहित करने पर वासुदेव देवनानी और तुलसी सोनी पर आज न्यायालय में  छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए नामजद मुक़दमा दर्ज करवा दिया है । जिस कांग्रेस कार्यकर्ता जितेंद्र चौधरी का तुलसी सोनी द्वारा गला पकड़ते हुए सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हुआ है , उसे बस मुकदमें में बतौर गवाह पेश किया गया है ,और महिला कांग्रेस पृष्ठभूमि की कार्यकर्ता रही मंजू सोनी को मिसाइल बना कर देवनानी और तुलसी सोनी की ओर मुंह करके निपटाने हेतु खड़ा कर दिया गया है ।

इस्तगासा में कांग्रेस विधि प्रकोष्ठ के कर्णधार और यह मामला हैंडल कर रहे कांग्रेस के युवा तुर्क और वकील वैभव जैन ने कोई भी ऐसी धारा नहीं छोड़ी है जिस से कही से भी देवनानी और  तुलसी सोनी बच के निकल सकें। भाई कुछ भी कहो मुद्दा कैसे बनाया जाता है और शिकार कैसे किया जाता है यह कोई अजमेर के राजनेताओं से आकर सीखे। खैर बात चल रही थी चंद्र ग्रहण के असर की तो ज्योतिष अनुसार यह ग्रहण काल 


 *जिन राशियों के लिए अच्छा है व शुभ फल लाएगा* ।

वृष - वा ए ओ और ई यानी वासुदेव देवनानीकी राशि

तुला - यानी रामस्वरूप लाम्बा,रघु शर्मा, तुलसी सोनी की राशि

कुम्भ- ग स और दा अर्थात गोपाल बाहेती की राशि


 *जिन राशियों हेतु यह ग्रहण खास फलदायक नहीं* 

मेष - चू चे चो ला ली लू ले लो आ

सिंह - मा म मू में मो टा टी टू टे अर्थात मंजू सोनी की राशि 

धनु - ये यो भा भी धा फ़ा ढा 

मकर - ज जी जे ख अर्थात जितेंद्र चौधरी की राशि


तो इस आंकलन के हिसाब से तो सभी की बल्ले बल्ले है भाई सिवाए उस कार्यकर्ता के जिससे यह मुकदमा दर्ज करवाया गया है।


वैसे भी इतिहास गवाह रहा है राजनीति के मुकदमों का जो हश्र होता है वह किसी से छुपा नहीं है । राजनीति में काम करने वाले लगभग सभी को यह मालूम है कि बड़ी मछलियां अपना काम करके निकल जाती हैं, और छोटी मछलियां इन कानूनी जंजालों में कोर्ट कचहरी के चक्कर लगाती हैं । जिस समय जोश खरोश में यह सब बातें की जाती है उस समय किसी को कुछ भी ज्ञात नहीं होता । परंतु कालचक्र में पिसते पिस्ते मैंने कई ऐसे लोग देखे हैं जो राजनीति में अपने आप को स्थिर करने हेतु ऐसे मुकदमें खुद पर खा लेते हैं और लोगों पर लगा लेते हैं । जो कि कई वर्षों तक उनके लिए परेशानी का सबब बने रहते हैं । खैर राजनीति है राजनीति का क्या यहां इस तरह की बातें चलती रहती हैं राजनेता बड़े-बड़े सपने दिखा कर कार्यकर्ताओं से इस तरह की गलतियां करवाते रहते हैं , और वक्त पड़ने पर खुद साफ किनारा कर जाते हैं । फिर भी मैं इस लेख के माध्यम से  सभी राजनीतिक दलों में बैठे हुए सैकड़ों भावुक लोगों से यही कहना चाहूंगा की इस तरह के किसी भी प्रपंच में अपनी ज़िन्दगी दाव पर न लगाएं क्योंकि आप की ज़िंदगी पर सबसे ज्यादा हक़ किस भी राजनैतिक दल का नहीं केवल आपके परिवार और आपके बच्चों का है।


आपके लिए ये दो लाइनें राजनीति की नग्न तस्वीर को समझने के लिए शायद काफी हों।


 *राजनीति में जो होता है आज होता है कोई कल नहीं होता* 


*अक्सर जो दिखाई देता है उसके नीचे धरातल नहीं होता* 


जय श्री कृष्णा


नरेश राघानी

प्रधान संपादक

www.horizonhind.com

9829070307

Latest News

April 25, 2019

पूरी निष्ठा व ईमानदारी से जनता की सेवा करूंगा-झुनझुनवाला

Read More

April 25, 2019

भाजपा बांधे ले अपने बोरी-बिस्तर-पायलट

Read More

April 25, 2019

सरकारी नौकरियों में महिलाओं को मिलेगा 33 फीसदी आरक्षण

Read More

April 25, 2019

फीस को लेकर भगवंत यूनीवरसिटी के विधियार्तियो ने कॉलेज के बाहर किया प्रदर्शन

Read More

April 25, 2019

पूर्व मंत्री बिना कॉक पहुंचीं अंदरकोट में जनसंपर्क करने

Read More

April 25, 2019

विवाह पर उपहार सामग्री श्री बालिका समृद्धि योजना के तहत् समाज सेवा टीम द्वारा द्वारा भेंट की

Read More

April 25, 2019

मेरा अहोभाग्य जो मेवाड को कर्मभूमि बनाने का सुअवसर मिला:- दीयाकुमारी

Read More

April 25, 2019

बस स्टेण्ड परिसर में पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश

Read More

April 25, 2019

अवैध भंडारण मानते हुए 15 घरेलु सिलेंडर जब्त किए

Read More

April 25, 2019

ट्राई साइकिल रैली में दिव्यांगों ने दिया मतदान का संदेश

Read More