RNI NO : RAJBIL/2013/50688
For News (24x7) : 9829070307
        
Breaking News
HORIZON HIND NEWS - BULLETIN 13 DEC 2017 |  लाखन कोटड़ी क्षेत्र में हुआ एक व्यक्ति का मर्डर। |  राज्य सरकार के संयुक्त कर्मचारी संघ ने जलाया मुख्यमंत्री का पुतला। |  राजस्थान मेडिकेयर रिलीफ सोसायटी की बैठक स्थगित |  भूमि अवाप्ति के मुआवजा चैक वितरण हेतु 18 व 19 दिसम्बर को लगेंगे शिविर  |  पकड़ा गया फर्जीवाड़ा, गांव छोड़ गए लोगों के नाम उठ रहा राशन |  आरोपी को परिजनों चेन्नई पुलिस से छुड़ाया, गोली लगने से इंस्पेक्टर की मौत |  चीफ इंजीनियर ने बिजली का फीडबैक लेने के लिए रात में लगाई चौपाल |  बूंदी में चलनी वाली महिला मजदूरों ने दिया मंडी गेट पर धरना |  बीकानेर में विकास के कई काम है सरकार के पास गिनवाने के लिए | 

चेतन सैनी केस : पुलिस की हर बात खुदकुशी साबित करना चाहती है, सबपर सवाल

Post Views 5

नाहरगढ़ के बुर्ज पर 14 दिन पहले लटके मिले चेतन सैनी के मामले में पुलिस आत्महत्या मानकर जांच को सीमित कर दिया है। मौके पर कई ऐसे क्लू हैं जो इशारा कर रहे हैं कि मौके पर चेतन अकेला नहीं था। सबसे बड़ा सवाल तो यही है कि चेतन ने फंदा लगाया है तो उसका जूता बुर्ज के अंदर क्यों मिला? यह तभी संभव हो सकता है जब कोई अचेतावस्था में बांधकर लटकाए। बुर्ज पर चढ़ते समय किसी भी हालत में जूता नहीं निकल सकता। पुलिस मान रही है चेतन आत्महत्या के लिए रस्सी शरीर पर लपेट कर ले गया, सवाल है 50 फीट रस्सी शरीर से बांधेगे तो मोटाई इतनी हो जाएगी कि कपड़े पहने ही नहीं जाएंगे। जिस तरह से रस्सी बुर्ज के बंधी है उस तरह से एक व्यक्ति बांध नहीं सकता। एफएसएल जांच से ही पता चल सकेगा कि रस्सी पर केवल चेतन के हाथ के निशान है या किसी और के भी हैं।


पुलिस की हर बात आत्महत्या साबित करना चाहती है, हर बात पर सवाल हैं

1. पुलिस आत्महत्या को साबित करने के लिए दावा कर रही है कि फुटेज में चेतन अकेला जा रहा है। संभवतया रस्सी उसके शरीर पर बंधी है। 
सवाल-
 50 फीट लंबी व 1 सेमी मोटी रस्सी को जब शरीर पर कमर से कंधे तक बांधकर कपड़े पहनेंगे तो कपड़े पूरी तरह से टाइट हो जाएंगे। शरीर मोटा दिखाई देगा मगर फुटेज में ऐसा कुछ नहीं है। फुटेज में शरीर पर ढीले कपड़े हैं। जो साबित कर रहे हैं कि चेतन के शरीर पर रस्सी बंधी हुई नहीं थी।

2. पुलिस कह रही है- चेतन ने अकेले बुर्ज के रस्सी बांधी और फंदा लगाया।
मान लिया कि चेतन ने अकेले ही बुर्ज के रस्सी बांधी। रस्सी बुर्ज की दीवार के छोटे मोखे में से दोनों तरफ निकाल कर बांधी हुई है। बुर्ज की चौड़ाई 3 फीट और मोखे की आखिरी में पौन फीट चौड़ा है। मोखे से रस्सी निकालकर बुर्ज पर बांधने के लिए हाथ को मोखे के अंदर देना होगा। तब ही रस्सी पकड़ में आएगी। रस्सी पकड़ने के बाद जब हाथ को मोखे से निकालते हैं तो दीवार की रगड़ लगती। चेतन के ऐसा कोई निशान नहीं।

3. पुलिस कहती है- चेतन रस्सी शरीर के बांध कर नहीं ले गया तो एक दिन पहले आकर छिपा गया।
-मान लिया चेतन की मोबाइल लोकेशन नाहरगढ़ की ही थी। वह 23 नवंबर को गया था। 24 नवंबर को तड़के फंदे से लटका मिला। इससे पहले नवंबर में वो नाहरगढ़ नहीं गया। रस्सी नई थी। यह या तो उसी दिन या फिर एक दिन पहले खरीदी गई। रस्सी पहले जाकर छिपाने की बात भी गले नहीं उतरती।

4. पुलिस कह रही- चेतन पर कर्जा था। शायद इसीलिए सुसाइड कर लिया होगा।
-मान लिया कर्जा था। लेकिन चेतन पर नहीं, पिता पर कर्जा था। परिवार वालों कह रहे हैं कि वह कर्ज से बिल्कुल परेशान नहीं रहा।

5. पुलिस मान रही- पुलिस जांच को गुमराह करने के लिए चेतन ने बुर्ज के पास पत्थरों पर कई आपत्तिजनक बातें लिखी थी।
सवाल- आत्महत्या करने वाला अपनी परेशानी लिखेगा। पुलिस की जांच को गुमराह क्यों करेगा? आशंका है- चेतन को लटकाने के बाद हत्यारों ने जांच को गुमराह करने के लिए ऐसा किया।

Latest News

December 13, 2017

HORIZON HIND NEWS - BULLETIN 13 DEC 2017

Read More

December 13, 2017

लाखन कोटड़ी क्षेत्र में हुआ एक व्यक्ति का मर्डर।

Read More

December 13, 2017

राज्य सरकार के संयुक्त कर्मचारी संघ ने जलाया मुख्यमंत्री का पुतला।

Read More

December 13, 2017

राजस्थान मेडिकेयर रिलीफ सोसायटी की बैठक स्थगित

Read More

December 13, 2017

भूमि अवाप्ति के मुआवजा चैक वितरण हेतु 18 व 19 दिसम्बर को लगेंगे शिविर 

Read More

December 13, 2017

पकड़ा गया फर्जीवाड़ा, गांव छोड़ गए लोगों के नाम उठ रहा राशन

Read More

December 13, 2017

आरोपी को परिजनों चेन्नई पुलिस से छुड़ाया, गोली लगने से इंस्पेक्टर की मौत

Read More

December 13, 2017

चीफ इंजीनियर ने बिजली का फीडबैक लेने के लिए रात में लगाई चौपाल

Read More

December 13, 2017

बूंदी में चलनी वाली महिला मजदूरों ने दिया मंडी गेट पर धरना

Read More

December 13, 2017

बीकानेर में विकास के कई काम है सरकार के पास गिनवाने के लिए

Read More