RNI NO : RAJBIL/2013/50688
For News (24x7) : 9829070307

horizon hind news ajmer-youtube

10th Sep 18

ई - पेपर

Breaking News
राजीव गाँधी ब्रिगेड ने फुका प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी का पुतला |  4 दिनों में समझोते को राज्य सरकार ने नहीं किया लागू तो होता उग्र आन्दोलन |  स्थाई मान्यता की मांग कर रहे विधि महाविधालय के छात्रों ने फुका मुख्यमंत्री का पुतला |  वार्ड 60 की अमरदीप कॉलोनी की सड़क निर्माण कार्य का शिलान्यास |  30 द्विपक्षीय बैठकों में शामिल होंगी सुषमा, ब्रिक्स-सार्क देश के नेताओं से भी मिलेंगी |  महासभा में तीन महीने की बेटी के साथ पहुंची न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री, ऐसा पहली बार हुआ |  पितरों का तर्पण करने गए थे, फंस गए 500 श्रद्धालु |  घनश्याम तिवाड़ी आरक्षण का नया फॉर्मूला लाए |  जीप और मिनी बस की आमने सामने की टक्कर में चार की मौत, छह लोग हुए घायल |  हाथों में धर्म का कच्चा धागा बांधे युद्ध के मैदान में उतरे सियासी दल | 

देर रात ड्राइवर गिरफ्तार, दो दिन के रिमांड पर

Post Views 4

December 7, 2017

उमा हत्याकांड में लिप्त ड्राइवर राकेश को पुलिस ने मंगलवार देर रात को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी को बुधवार को कोर्ट में पेश किया जहां से उसे दो दिन के पुलिस रिमांड पर सौंप दिया। 

जानकारी के अनुसार उमा हत्याकांड में मुख्य आरोपी बताए जा रहे सुनील सिंह तथा धर्मपाल पहले से ही पुलिस के पांच दिन के रिमांड पर चल रहे हैं। मदनगंज थाना पुलिस की पूछताछ में सामने आया कि आरोपियों के तार ड्राइवर राकेश शर्मा से जुड़े हैं। पुलिस की हत्याकांड में राकेश पर शुरू से ही नजर है। पुलिस थाने में लाकर राकेश से तीन-चार बार बयान ले चुकी है। राकेश से पूछताछ करने पर ही चंडीगढ़ में आरोपी सुनील सिंह धर्मराज पकड़े गए थे। हत्या के बाद सुनील सीकर और वहां से धर्मपाल को साथ लेकर चंडीगढ़ भाग गया था। ड्राइवर राकेश को देर रात पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। सुनील ने ही एसएन पांडे के ड्राइवर की नौकरी राकेश को दिलवाई थी। आरोपी सुनील सिंह ने ही उमा की हत्या की थी। 

आरोपी महज चंद मिनटों में उमा के मकान में प्रवेश करके वारदात को अंजाम दिया। ड्राइवर राकेश और पांडे के घर से निकलते ही सुनिल मकान में घुस गया। सामने रहने के कारण सुनील की नजर पांडे के मकान पर थी। वह दौड़कर मकान में घुस गया और दरवाजा बंद कर रही उमा पांडे की आंख में मिर्ची डालकर हत्या कर दी। उसके बाद नकदी जेवरात लूटकर सीकर के दुजोद भाग गया। वहां कार को छोड़कर अपने रिश्तेदार धर्मपाल को साथ लेकर चंडीगढ़ पहुंच गया। ड्राइवर के इशारे पर पुलिस ने चंडीगढ़ से दोनों को धर दबोचा था। आरोपियों के पास 7 लाख केश और सोने के जेवरात, लाल मिर्ची का पैकेट सहित अन्य सामग्री मिली थी। प्रकरण में अन्य आरोपियों के होने की संभावना है। मामले में तार किस्से से जुड़े है ये दोनों आरोपियों से पूछताछ के बाद ही पता लगेगी। पुलिस सूत्रों की मानें तो आरोपियों से पूछताछ के बाद मामले में कई अहम राज खुलेंगे। 

Latest News

September 25, 2018

राजीव गाँधी ब्रिगेड ने फुका प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी का पुतला

Read More

September 25, 2018

4 दिनों में समझोते को राज्य सरकार ने नहीं किया लागू तो होता उग्र आन्दोलन

Read More

September 25, 2018

स्थाई मान्यता की मांग कर रहे विधि महाविधालय के छात्रों ने फुका मुख्यमंत्री का पुतला

Read More

September 25, 2018

वार्ड 60 की अमरदीप कॉलोनी की सड़क निर्माण कार्य का शिलान्यास

Read More

September 25, 2018

30 द्विपक्षीय बैठकों में शामिल होंगी सुषमा, ब्रिक्स-सार्क देश के नेताओं से भी मिलेंगी

Read More

September 25, 2018

महासभा में तीन महीने की बेटी के साथ पहुंची न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री, ऐसा पहली बार हुआ

Read More

September 25, 2018

पितरों का तर्पण करने गए थे, फंस गए 500 श्रद्धालु

Read More

September 25, 2018

घनश्याम तिवाड़ी आरक्षण का नया फॉर्मूला लाए

Read More

September 25, 2018

जीप और मिनी बस की आमने सामने की टक्कर में चार की मौत, छह लोग हुए घायल

Read More

September 25, 2018

हाथों में धर्म का कच्चा धागा बांधे युद्ध के मैदान में उतरे सियासी दल

Read More