RNI NO : RAJBIL/2013/50688
For News (24x7) : 9829070307

horizon hind news ajmer-youtube

10th Feb 19

ई - पेपर

Breaking News
नागफनी स्तिथ आरा तारी की फक्ट्री पर पड़ा छापा |  प्रिंट मीडिया और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया ने दरगाह में पेश करी चादर |  बच्चो को मोबाइल की दुनिया से निकालने के लिए फ्लाइंग बर्ड परिवार ने किया कैंप का आयोजन |  2.5 करोड़ रूपये की राशि के गबन में अन्नपूर्ण और उसके साथी को भेजा नियायिक हिरासत में |  एक पल दो काज फाग उत्सव में भी मोदी सरकार |  साउथ फ़िल्म अभिनेता और डायरेक्टर विग्नेश शिवन ने की दरगाह जियारत |  अलवर के लक्ष्मण चौधरी बॉडी बिल्डिंग में बने मिस्टर राजस्थान |  पुलिस विभाग ने पेट्रोलिंग टीम को दी नई चार बाइक |  पांच बदमाशो ने एक युवक की हत्या कर शव को दफनाया जमीन में |  अजमेर से कांग्रेस ने अभी तक नही उतरा अपना प्रतियाक्षी दूसरी और भागीरथ चोधरी का प्रचार शुरू | 

national NEWS :

March 25, 2017

डोनाल्ड ट्रंप ने मांगी 271 लोगो की अवैध प्रवासी सूची

डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन ने 271 लोगों की एक सूची दी और दावा किया है कि वे भारत के अवैध प्रवासी हैं. सरकार ने शनिवार को अमेरिका से कहा कि वह उन 271 अवैध प्रवासियों के बारे में जानकारी मुहैया कराये जिन्हें वह चाहता है कि भारत वापस ले. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने कहा, "यह चल रहा मामला है. अमेरिकी अधिकारियों ने हमें कुछ समय पहले कहा था कि हमें उपलब्ध कराये गए आंकड़ों में से 271 मामलों का समाधान नहीं हुआ है. यद्यपि इन मामलों की कोई जानकारी मुहैया नहीं कराई गई. हमने उसके बारे में जानकारी मांगी हैविदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कल संसद में कहा था-हमने यह सूची स्वीकार नहीं की है एवं अधिक जानकारी मांगी है.

March 24, 2017

पावरग्रिड ने ± 800 केवी एचवीडीसी चंपा-कुरुक्षेत्र पोल-I को चालू किया

± 800 केवी एचवीडीसी चंपा-कुरुक्षेत्र पारेषण प्रणाली के 1500 मेगावाट, पोल-I के परीक्षण परिचालन को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया गया है और आज से पोल का वाणिज्यिक परिचालन शुरू हो गया है। यह प्रणाली ‘छत्‍तीसगढ़ में आईपीपी परियोजनाओं से जुड़ी ± 800 केवी, 3000 मेगावाट डब्‍ल्‍यूआर-एनआर एचवीडीसी इंटरकनेक्‍टर पारेषण प्रणाली’ का एक हिस्‍सा है।

March 24, 2017

देश के 91 प्रमुख जलाशयों के जलस्तर में 2 प्रतिशत की कमी

23 मार्च, 2017 को समाप्त सप्ताह के दौरान देश के 91 प्रमुख जलाशयों में 54.962 बीसीएम (अरब घन मीटर) जल का संग्रहण आंका गया। यह इन जलाशयों की कुल संग्रहण क्षमता का 35 प्रतिशत है। यह पिछले वर्ष की इसी अवधि के कुल संग्रहण का 132 प्रतिशत तथा पिछले दस वर्षों के औसत जल संग्रहण का 101 प्रतिशत है। उधर 16 मार्च, 2017 को समाप्त सप्ताह में यह 37 प्रतिशत आंका गया था।इन 91 जलाशयों की कुल संग्रहण क्षमता 157.799 बीसीएम है, जो समग्र रूप से देश की अनुमानित कुल जल संग्रहण क्षमता 253.388 बीसीएम का लगभग 62 प्रतिशत है

March 24, 2017

योगी ने लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन को भेजा भावुक खत

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन को खत लिखकर यूपी आने का निमंत्रण दिया है. उन्होंने सुमित्रा महाजन को दर्शनीय स्थलों को देखने के लिए आमंत्रित किया है. लोकसभा अध्यक्ष को लिखे पत्र में मुख्यमंत्री ने कहा कि आप उत्तर प्रदेश आने का कार्यक्रम बनाएं. आपका स्वागत करके खुशी होगी. मुख्यमंत्री ने पत्र में उल्लेख किया है कि 1998 में पहली बार वे गोरखपुर से लोकसभा सदस्य चुनकर आए और तब से लगातार इस सम्मानित सदन में बैठने का सुअवसर मिला. सदन से उन्होंने बहुत कुछ सीखा और उन्हें बहुत प्यार मिला.उन्होंने आगे लिखा कि लोकसभा से उन्हें जो कुछ सीखने को मिला उससे उत्तर प्रदेश को गतिमान, भ्रष्टाचार रहित और पारदर्शी बनाएंगे. सभी के सहयोग से यूपी को अग्रिम पंक्ति में लाने में सफल हो सकेंगे. मुख्यमंत्री ने अपने खत में 16वीं लोकसभा में अंतिम बार बोलने का अवसर देने के लिए भी आभार व्यक्त किया

March 24, 2017

दोस्‍तों की लोकेशन ट्रैक कर सकते है-गूगल मैप्स का नया आप्शन लौंच हुआ

गूगल मैप्‍स ने एक नया ऑप्‍शन लॉन्च किया है, जिसके जरिए आप दोस्‍तों की लोकेशन ट्रैक कर सकते हैं। यानी कि आपका दोस्‍त कहां और किस रास्‍ते से जा रहा है, उसकी रियल टाइम लोकेशन आपके फोन में नजर आएगी। यह अपडेट जल्द ही एंड्रायड और आईओएस यूजर्स के लिए जारी किया जाएगा। घर बैठे दोस्‍तों को करें ट्रैक-इस नए अपडेट के बाद मैप्‍स में रियल टाइम लोकेशन सेंड करने का फीचर जुड़ जाएगा, जिसकी मदद से आप अपने दोस्‍तों या परिवार वालों को अपनी रियल टाइम लोकेशन की जानकारी दे सकेंगे

March 24, 2017

एक विवाहिता ने घर मे लगाई फांसी

रुद्रपुर ट्रांजिट कैंप में एक महिला ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उस दौरान पति और देवर काम पर थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे पर ले लिया। मूल रूप से बदायूं मलकानपुर बिसौली निवासी विनोद मौर्य यहां आजादनगर ट्रांजिट कैंप में किराए के मकान पर रहता है। घर में पत्नी शीतल मौर्या (23 वर्ष), पांच साल की बेटी के साथ विनोद का छोटा भाई भी रहता है। गत रात विनोद फैक्ट्री में काम पर गया था। सुबह उसका भाई भी काम पर चला गया। इस बीच शीतल ने टीन शेड पर चुन्नी का फंदा फंसाकर फांसी लगा ली। मकान मालिक की बेटी ने घर से बाहर निकलेत हुए शीतल को फंदे से लटके देखा। सुचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंची। पति और देवर को पकड़ पुलिस पूछताछ के लिए थाने ले गई।

March 24, 2017

आसाराम केस मे गवाहों को सुरक्षा दे यूपी सरकार : सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने हरियाणा तथा उत्तर प्रदेश की सरकारों को आसाराम के केस में चार गवाहों को सुरक्षा देने के आदेश दिए हैं. मामले की अगली सुनवाई अब चार हफ्ते बाद होगी.याचिकाकर्ता ने कोर्ट को जानकारी दी कि हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश सरकारों की तरफ से मामले में अभी कोई जवाब दाखिल नहीं हुआ है, सो, ऐसे में उन्हें सुरक्षा मुहैया कराई जाए, क्योंकि उनको जान का खतरा बना हुआ है.दरअसल, गवाहों के हत्या और धमकाने के आरोप के मामले में सीबीआई या एसआईटी जांच की मांग करने वाली याचिका पर कोर्ट ने केंद्र सरकार एवं हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश और राजस्थान की सरकारों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा था. याचिका में कहा गया था कि 10 मुख्य गवाहों में से तीन की हत्या हो चुकी है और शेष सात पर जानलेवा हमले हो चुके हैं.यह मांग भी की गई कि आसाराम और उन्हें बेटे नारायण साईं द्वारा तंत्र पूजा को लेकर भी सीबीआई जांच रवाई जाए. याचिका में आरोप लगाया गया है कि वे दोनों तंत्र पूजा किसी छोटे बच्चे के लाश के सामने करते हैं

March 24, 2017

एक महीने से लापता नाबालिग लड़की का शव तालाब से बरामद

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में एक महीने से लापता नाबालिग लड़की का शव गुरुवार को एक तालाब से बरामद किया गया.

March 24, 2017

1984 सिख विरोधी हिंसा मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से 199 केसों की फाइलें तलब कीं

1984 में हुई सिख विरोधी हिंसा के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से 199 केसों की फाइल तलब की हैं. केंद्र को तीन हफ्ते में केसों की फाइल कोर्ट में देने को कहा गया है.

March 24, 2017

सीएम आज एसीड पीडि़ता को देखने ट्रामा सेंटर गए, आर्थिक सहायता के रूप में दिया चेक

दुष्कर्म पीडि़ता को चलती ट्रेन में तेजाब पिलाने के मामले में मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने बेहद गंभीरता से लिया है। सीएम आज पीडि़ता को देखने मेडिकल यूनिवर्सिटी के ट्रामा सेंटर गए। इस मौके पर मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने पीडि़ता को मुफ्त चिकित्सा प्रदान करने के साथ ही आर्थिक सहायता के रूप में एक लाख रुपया का चेक भी प्रदान किया। इसके साथ ही इस प्रकरण की रिपोर्ट एडीजी कानून-व्यवस्था के साथ एसएसपी लखनऊ से मांगी है। साथ ही प्रतिसार निरीक्षक के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया। लखनऊ के मोहनलालगंज के पास चलती ट्रेन में कल एक दुष्कर्म पीडि़ता को तेजाब पिलाकर जान से मारने का प्रयास किया गया। घटना के बाद से ट्रेनों में सुरक्षा को लेकर सवाल उठ रहे हैं। वारदात के बाद से महिला को बोलने में दिक्कत हो रही है। महिला ट्रेन से उतरकर चारबाग जीआरपी स्टेशन पहुंची तब वहां पुलिसकर्मियों को घटना की जानकारी हुई। महिला को जीआरपी ने ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया है। चारबाग जीआरपी पुलिस ने ऊंचाहार के गुड्डू व भोंदू के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है।सीएम योगी आदित्यनाथ से मिलने वालों का तांता, आलोक रंजन भी मिले जीआरपी की दारोगा प्रेमलता दीक्षित के मुताबिक महिला को कल उसके पति ने रायबरेली स्टेशन से लखनऊ के लिए गंगा-गोमती एक्सप्रेस में बैठाया था। ट्रेन मोहनलालगंज के पास पहुंची थी, तभी ट्रेन में पहले से मौजूद दो बदमाशों ने एक बोतल निकाली जिसमें ज्वलनशील पदार्थ था, जो तेजाब था। एक बदमाश ने महिला को बाल पकड़कर सीट से भिड़ा दिया और दूसरे ने जबरन उसे तेजाब पिला दिया। महिला के पति का कहना है कि दुष्कर्म के आरोपियों ने ही घटना को अंजाम दिया है। उन्होंने बताया कि महिला लखनऊ में गोमतीनगर के एक साइबर कैफे में काम करती है।

March 24, 2017

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर से अजमेर शरीफ में आज होगी चादर पेश

शांति और सांप्रदायिक सौहार्द के पैगाम के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज प्रसिद्ध अजमेर शरीफ दरगाह पर चादर भेजी। मोदी ने केन्द्रीय अल्पसंख्यक मामलों के राज्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी तथा कार्मिक और पेंशन मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह को चादर सौंपा।आपको बता दें कि आज ही ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती के 805वें उर्स का झंडा दरगाह के बुलंद दरवाजे पर चढ़ाया जाएगा। इसके साथ ही उर्स की अनौपचारिक शुरूआत हो जाएगी। हालांकि औपचारिक रूप से उर्स की शुरूआत 28 मार्च को रजब का चांद दिखने के बाद होगी। उर्स को लेकर प्रशासन ने तैयारियां पूरी कर ली हैं। सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं और पहली बार ड्रोन से यहां चप्पे-चप्पे पर नजर रखी जाएगी। ख्वाजा के उर्स में शामिल होने के लिए दुनियाभर से जायरीन अजमेर पहुंच रहे हैं। शुक्रवार को अर्स की नमाज के बाद लंगर खाना गली स्थित दरगाह गेस्ट हाउस से झंडे के जुलूस की शुरुआत होगी। भीलवाडा के गौरी परिवार के सदस्य यह झंडा लेकर चलेंगे। गाजे-बाजे और सूफियाना कलामों के बीच यह जुलूस लंगर खाना गली, नला बाजार और दरगाह बाजार होते हुए दरगाह पहुंचेगा और झंडा दरगाह के बुलंद दरवाजे पर चढ़ाया जाएगा। इसके बाद में गौरी परिवार अकीदत का नजराना ख्वाजा साहब की मजार पर पेश करेगा। इसके बाद रजब का चांद दिखने पर 28 मार्च से उर्स की धार्मिक गतिविधियां शुरू हो जाएंगी।

March 24, 2017

करीबी रिश्तो मे शादी करने से इस बीमारी से जूझ रहे है ये लोग

पंचायतों के तुगलकी फरमानों के बारे में तो आपने सुना ही होगा। हमारे देश में इसे अच्छा न मानते हुए ऐसे रिश्तों का बहिष्कार किया जाता है। लेकिन क्या आपने पहले कभी सुना है कि अपने करीबी रिश्तों में शादी के कारण लोगों को एक भंयकर बीमारी से जूझना पड़ रहा है। आप भी ये बात सुनकर चौंक गए होंगे लेकिन दुनिया में एक ऐसा देश है जो इस समस्या से जूझते हुए दिख रहा है।इंडोनेशिया में इन दिनों एक अफवाह फैली हुई है जिसमें कहा जा रहा है कि आपस में करीबी रिश्तेदार माने जाने वाले लड़का-लड़की यदि एक दूसरे से शारीरिक सम्बध बनाते हैं तो उन्हें मानसिक बीमारी हो जाती है।कमपुंग इडियट यानी डॉन सिंड्रोम के कारण यहां लोग मेंटली तौर पर बीमार हैं। यह बीमारी रिलेशन में शादी से होने वाले बच्चों में होती है। ऐसे बीमार लोगों को कैदियों की तरह जंजीरों में बांधकर रखा जाता है। लोग इन बीमारों को शापित मानकर इनके साथ जानवरों जैसा बदतर व्यवहार करते हैं।इंडोनेशिया के सिदोहार जो, करंगपटिहान, क्रेबेत गांव में 10 साल से लेकर 50 साल तक के कई लोग फिजिकली डिसेबल और मानसिक रूप से बीमार हैं। इसका सबसे बड़े कारण रिलेशन में शादी और सेक्स संबंध बनाना माना जा रहा है। जबकि कुछ लोग इसका कारण कुपोषण और आयोडिन भी बताते हैं।हैरत की बात है कि ऐसे लोगों को ट्रीटमेंट के बजाय जानवरों की तरह रखा जाता है। उन्हें जंजीरों में जकड़कर पिंजरों में कैद किया जाता है। हालांकि इंडोनेशिया सरकार ने इस तरह की प्रैक्टिस पर 1970 में ही रोक लगा दी थी। जानकारों का कहना है कि इस बीमारी का कारण चाहे कुछ भी हो लेकिन पीडि़त लोगों को इलाज की जरूरत है। जंजीरों में बांधकर उनका इलाज नहीं किया जा सकता है। दूसरी ओर लोगों की संकीर्ण मानसिकता भी इंडोनेशिया के ऐसे बदतर हालात के लिये जिम्मेदार है।



Horizon Career Consultant


CKS Hospital




Horizon Overseas

Video Gallery



Horizon Hind epaper