RNI NO : RAJBIL/2013/50688
For News (24x7) : 9829070307
booked.net - hotel reservations online
+43
°
C
+43°
+38°
Ajmer
Saturday, 08
See 7-Day Forecast
Visitors Count - 63539682
Breaking News
Ajmer Breaking News: अग्रवाल महिला समिति द्वारा दिवाली स्नेह मिलन समारोह का आयोजन |  Ajmer Breaking News: फॉरेस्ट्रा समारोह स्थल में चल रहे देहव्यापार पर पुलिस ने दी दबिश |  Ajmer Breaking News: कोड स्कैन करने से खाते से उड़े ₹40000 |  Ajmer Breaking News: राजस्थान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 18 नवंबर को रहेंगे अजमेर दौरे पर |  Ajmer Breaking News: जगदंबा टावर में चोरी करने वाले चारों आरोपी गिरफ्तार |  Ajmer Breaking News: पुष्कर में निकाय चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न |  Ajmer Breaking News: आरा तारी की फैक्टरी पर पुलिस ने मारा छापा |  Ajmer Breaking News: आशा सहयोगिनी महिला आरोग्य समिति सदस्यों की क्षमतावर्द्धन कार्यशाला का आयोजन |  Ajmer Breaking News: बहादुर शाह जफर की दरगाह पर पेश होगी अजमेर से भेजी गई चादर |  Ajmer Breaking News: कार का कांच तोड़कर व्यापारी का बैग लेकर भागने वाला आरोपी गिरफ्तार | 

Guest-writer News:

March 8, 2017

घर से दफ्तर चूल्हे से चंदा तक, पुरुष संग अब दौड़े यह नार

घर से दफ्तर चूल्हे से चंदा तक, पुरुष संग अब दौड़े यह नार ...महिला दिवस है , शक्ति दिवस भी पुरुष नजरिया में हो और सुधार .....आज महिला दिवस की धूम पूरे भारत में गूंज रही है | धारणा यह है की यह दिन महिलाओं को उनकी क्षमता , समाजिक ,राजनीतिक व् आर्थिक तरक्की दिलाने व् उन महिलाओं को याद करने का दिन है जिन्होंने महिलाओं को उनके अधिकार दिलाने के लिए अथक प्रयास किये | लेकिन बात करे यदि हम महिलाओं के अधिकारों व् उनकी शक्ति की तो अनादि काल से ही महिलाओ के अधिकारों और उनके सम्मान की तो पुरुष प्रधान समाज में यह चर्चा तब से अब तक होती आई है । लेकिन जो सम्मान उन्हें मिलना चाहिए था वो ना अनादि काल में भी नही मिला था और आज भी नही क्योकि जब बात है महिलाओ की सम्मान की तब उसके जीवन से जुड़े हर पुरुष के संम्मान को ठेस पहुँचती है अनादि काल से ही महिलाओ के मान को ही पुरुष का सम्मान समझ जाता रहा है सतयुग में सीता ने रावण राज्य में भी अपने मान को खोने न दिया वही उसके पति राम के राज्य में आकर एक पुरुष की विकृत मानसिकता ने सीता के मान पर सवाल खड़े कर दिए और उन्हें अपने पति के सामने ही अग्नि परीक्षा देनी पड़ी और आज भी महिलाओ के मान को ही पुरुष का सम्मान जाता है पुत्री का मान उसके पिता के सम्मान से , ब

March 7, 2017

तीखी बात/बुरा न मानो होली है!

अजमेर |सारे देश के गधे गुस्से से तमतमाये हुए हैं। यूपी के चुनावी संग्राम में जिस प्रकार गुजरात के गधों की असम्मानपूर्ण चर्चा की गई है यह पूरी वैशाखनंदन जाति का घनघोर अपमान है। जातीय अपमान के इस मुद्दे पर सम्पूर्ण गर्दभ जाति एक है। कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक के गधे उद्वेलित हैं, विचलित हैं, अपमानित हैं। सौराष्ट्र से लेकर असम तक के गधे एक स्वर में अपना विरोध व्यक्त कर रहे हैं और प्रतिशोध लेने को आतुर हैं। यदि किसी नेता को यह गुमान हो कि गुजरात के गधों का अपमान करके वह किसी अन्य राज्य के गधों से अपने सम्बन्ध अच्छे बनाये रख सकेगा तो हम उसकी यह गलतफहमी शीघ्र ही दूर कर देंगे। हम राष्ट्रव्यापी आंदोलन चलायेंगे और शीघ्र ही संसद का घेराव करेंगे। धोबी के गधे, कुम्हार के गधे, पहाड़ी खच्चर, मैदानी टट्टू और यहाँ तक कि हमारे ही बड़े भाई अर्थात् घोड़े भी हमारे साथ आने को तैयार हैं।




Horizon Career Consultant
CKS Hospital
Vijay Bakery

Video Gallery


Horizon Hind E-Paper

10th October 2019

Horizon Hind News E-Paper 2019-10-10